Natarang Pratishthan

Natarang Pratishthan
Archive and Resource Centre for Indian Theatre

Contact Us |
Powered by: Google
|  Home  |  The Pratishthan  |  Archives  |  Documentation  |  Events  |  Catalogue  |  Natarang, the Quarterly Magazine  |  People  |
Andher Nagri, Writer: Bhartendu Harishchandr, Director: B. V. Karanth.
Image: Andher Nagri, Writer: Bhartendu Harishchandr, Director: B. V. Karanth. (NP Acc. No. 1659)

Natarang Pratishthan Documentation Catalogue

Click here to type in Hindi.
or press 'Ctrl+g' from keyboard.
  • Books (23)
    • Displaying records 1 - 5 of 23.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 1
      Writer/Editor: आवनम कडम्पा
      Language: मलयालम
      Publisher/Place: साहित्य प्रवर्तक, कोट्टायम
      Year: 31/05/1905
      Source/Accession No: न.प./894.8122
      Description/Notes: मलयालम नाटक। लेखक द्वारा नेमिचन्द्र जैन को भेंट। 98पृ0,
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serial No: 2
      Writer/Editor: देवथार
      Publisher/Place: साहित्य प्रवर्तक, कोट्टायम
      Year: 29/05/1905
      Source/Accession No: न.प./894.8122
      Description/Notes: एक नाटकीय कविता, 88पृ0, 3/-
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serial No: 3
      Title: नाट्यानुवाद एवं भारतीय रंगमंच
      Writer/Editor: ए. अच्युतन
      Language: हिन्दी
      Publisher/Place: शब्दसेतु, दिल्ली
      Year: 28/06/1905
      Source/Accession No: न.प.
      Description/Notes: 272पृ0, पृष्ठ-54(हिन्दी में अनूदित आधुनिक भारतीय भाषा नाटक: ऐतिहासिक परिवृत्त): पणिक्कर रचित नाटकों और उनके हिन्दी में अनूदित नाटकों के नामों का उल्लेख। पृष्ठ-79 (हिन्दी में अनूदित आधुनिक भारतीय भाषा नाटक: नाट्य तत्वों की दृष्टि से): मलयालम में पौराणिक नाटकों के माध्यम से मनुष्य की युगीन चेतना की अभिव्यक्ति की दृष्टि से पणिक्कर के नाम का उल्लेख। पृष्ठ-94: पणिक्कर के ऐतिहासिक नाटक ’नूरजहाँ’ के नाम का उल्लेख। पृष्ठ-118: केरल ही नहीं समस्त भारतीय रंगमंच पर अपनी मौलिक नाट्य पद्धति एवं रंग शैली की दृष्टि से पणिक्कर का नाम उल्लेखनीय होने का उल्लेख। पृ0-199: पणिक्कर के प्रायः सभी नाटकों का लोक-नाट्य रूपायित होने का उल्लेख। रंग आन्दोलन को केरल के नाट्य जगत की प्रमुख पद्धति के तौर पर प्रश्रय देने का मुख्य श्रेय पणिक्कर को। पृ0-202: पणिक्कर का केरल के रंगमंच पर निजी रंगमंच को तलाशते हुए ’देवान्तर’, ’अवनवन’, ’कटमबा’ नाटकों की रचना से प्रवेश करने का उल्लेख। पृ0-266(परिशिष्ट-1): पणिक्कर रचित हिन्दी में अनूवादित नाटकों की सूची।
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serial No: 4
      Title: गिरीश रस्तोगी
      Writer/Editor: नाटक और रंग परिकल्पना
      Publisher/Place: विश्वविद्यालय प्रकाशन, वाराणसी
      Year: 14/06/1905
      Source/Accession No: साहित्य अकादमी ।बबण् छवण्.़17716
      Description/Notes: पृ0-6, 57ः पणिक्कर द्वारा केरल की कुडिअट्टम शैली मे भास ने नाटक उरूभंगम का पारंपरिक अनुष्ठान परक प्रदर्शन का उल्लेख। पृ0-6, 57ः पणिकर द्वारा उरूमंगम नाटक को मनोशारीरिक नाट्य रूप् में प्रस्तुत करने का उल्लेख 100पृ0, 40/-
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serial No: 5
      Title: गिरीश रस्तोगी
      Writer/Editor: हिन्दी नाट्य परिदृश्य
      Publisher/Place: प्रकाशन संस्थान, दरियागंज, दिल्ली
      Year: 26/06/1905
      Source/Accession No: दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी ।बबण् छवण्.़136176
      Description/Notes: संपादक-धीरेन्द्र शुक्ल, पृ0-40 अन्य संदर्भ-41ः पणिक्कर द्वारा आठवें दशक में भारतीय रंगमंच की निजी प्रकृति की तलाश, सजगता, कल्पनाशीलता, सर्जनात्मकता, मौलिक, उदार और संवेदनात्मक रंगमंच का परिचय 208पृ0, 200/-
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Newspaper Clippings (24)
    • Displaying records 6 - 10 of 24.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 6
      Writing Form/Subject: समीक्षा
      Writer: सत्यदेव त्रिपाठी
      Title: नेहरू संेटर का पांचवां नाट्योत्सव: लोकप्रियता के उत्कर्ष पर
      Name of the Play/Event: उरूभंगम
      Newspaper Name: नव भारत टाईम्स, मुम्बई
      Language: हिन्दी
      Date: 30.09.2001
      Source: न.प.
      Description/Notes: मूल लेखक-भास, निर्देशक-कावालम नारायण पणिक्कर, प्रस्तुति-सोपानम, अवसर-नाट्य महोत्सव, आयोजक-नेहरू सेन्टर,मुम्बई। प्रस्तुति भाषा-संस्कृत। संगीत, वेश-भूषा, परिकल्पना-उ.न.।
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • Serial No: 7
      Writing Form/Subject: रपट
      Writer: जयदेव तनेजा
      Title: लोकरेग और उमंग के नाटक
      Name of the Play/Event: करीम कुट्टी
      Newspaper Name: जनसत्ता
      Language: हिन्दी
      Date: 21.03.1984
      Source: न.प.
      Description/Notes: लेखक एवं निर्देशक-कावालम नारायण पणिक्कर। प्रस्तुति भाषा-मलयालम। अवसर-संगीत नाटक अकादमी द्वारा 1983 का सर्वश्रेष्ठ निर्देशन के लिए अकादमी पुरस्कार प्राप्त करने के अवसर पर। मुख्य कलाकार-कलाधरन, एस.आर. गोपालकृष्णन, वासुदेवन, व अजी। स्थान, तिथि, संगीत, वेशभूषा-उ.न.।
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • Serial No: 8
      Writing Form/Subject: नाट्य समीक्षा
      Writer: अजित राय
      Title: 21 वीं सदी में भी संस्कृत नाटक की परंपरा कायम
      Name of the Play/Event: कर्णभारम्
      Newspaper Name: राष्ट्रीय सहाराए नई दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 10/11/2003
      Source: नण् प्रण्
      Description/Notes: संगीत नाटक अकादमी के राष्ट्रीय नाट्य समारोह ”रंग स्वर्ण” में ”भास” लिखित नाटक कर्णभारम का मंचनए प्रस्तुति . सोपानम तिरूवनंतपुरमए केरल। स्थान . कमानी सभागार। नाटक में केरल की पारम्परिक नृत्य शैलीए ”कुडियाट्टम” तथा अन्य पारंपरिक शैलियों के प्रयोग का उल्लेख। निर्देशन . केण् एनण् पणिक्कर। मुख्य भूमिका . बीण् कृष्णकुमारए वी गिरीशनए वृजकुमार मोहनी शिवकुमारए अनिल कुमारए आदि।
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • Serial No: 9
      Writing Form/Subject: रपट
      Title: दिल्ली में नाटकों का मेला आज से
      Name of the Play/Event: कर्णभारम्
      Newspaper Name: अमर उजाला, मेरठ
      Language: हिन्दी
      Date: 18.03.1999
      Source: न.प.
      Description/Notes: कावालम नारायण पणिक्कर की संस्कृत प्रस्तुति। भारत रंग महोत्सव में। आयोजक रा.ना.वि। संगीत, प्रकाश, डिजाईन, स्थान, उल्लेख नहीं।
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • Serial No: 10
      Writing Form/Subject: नाट्य समीक्षा
      Writer: संगम पांडेय
      Title: एक बार फिर कर्णभारम्
      Name of the Play/Event: कर्णभारम्
      Newspaper Name: जनसत्ताए नई दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 10/11/2003
      Source: नण् प्रण्
      Description/Notes: भास लिखित नाटक ”कर्णभारम्” का संगीत नाटक अकादमी द्वारा आयोजित ”रंग स्वर्ण” राषट्रीय नाट्य समारोह के उदघाटन में मंचनए स्थान . कमानी सभागारए प्रस्तुति . सोपानम तिरूवनंतपुरमए केरल। मुख्य भूमिका . बीण् कृष्णकुमारए वी गिरीशनए वृजकुमार मोहनीए शिवकुमारए अनिल कुमार आदि। निर्देशन . केण् एनण् पणिक्करए चित्र सहित।
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Periodicals (101)
    • Displaying records 1 - 5 of 101.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serail No: 1
      Writing Form: सम्मान
      Title: कावालम नारायण पणिक्कर का कालिदास सम्मान
      Language: नव भारत टाईम्स
      Date: हिन्दी
      Volume: 23ण्12ण्1995
      Source: नण्पण्
      Description/Notes: मध्य प्रदेश सरकार द्वारा कालिदास सम्मान
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serail No: 2
      Writing Form: साक्षात्कार
      Writer: देवेन्द्र राज अंकुर
      Title: संस्कृत नाटक चुनौती देते हैं
      Language: जनसत्ताए दिल्ली
      Date: हिन्दी
      Volume: 21ण्11ण्1999
      Source: नण्पण्
      Description/Notes: पेज नं0.7ए स्वप्नकथा की मंच प्रस्तुति के लिए दिल्ली आगमन। ष्ष्कलाकार एवं रचनाकार की भूमिका उत्प्रेरक जैसीष्ष्। नाटककार के संकट और दायित्व को लेकर चर्चा।
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serail No: 3
      Title: पणिक्कर संगीत नाटक अकादमी के नए उपाध्यक्ष
      Language: नव भारत टाईम्सए नई दिल्ली
      Date: हिन्दी
      Volume: 25ण्07ण्2004
      Source: संगीत नाटक अकादमी
      Description/Notes: संगीत नाटक अकादमी का फेलो होने के साथ.साथ उनकी उपाध्यक्ष पद पर नियुक्ति।
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serail No: 4
      Writing Form: रपट
      Writer: सुरेश अवस्थी
      Title: रंगकर्मरू परंपरा का पुरूषार्थ
      Language: नव भारत टाईम्स
      Date: हिन्दी
      Volume: 02ण्05ण्1993ए
      Source: न.प. /
      Description/Notes: रंगकर्म की अस्मिता और परंपरा के पुरूषार्थ की खोज पर केन्द्रित लेख। कावालम नारायण पणिक्कर के नाटकों मध्यम वययोगए कर्णभारमृए उरूभंगम् की चर्चा।
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • Serail No: 5
      Writing Form: समीक्षा
      Title: भाषा के लिए पारदर्शी संसार
      Journal: उरूभंगम
      Language: जनसत्ताए दिल्ली
      Date: हिन्दी
      Volume: 27ण्09ण्1989
      Source: न.प. /
      Description/Notes: पेज नं0.7ए भास के नाटकए निर्देशक.कावालम नारायण पणिक्कर। प्रस्तुतिए भाषाए अनुवादए संगीतए वस्त्रए विन्यासए प्रकाशए स्थानए तिथि.उण्नण्।
      Director/Actor being documented: कावालम नारायण पणिक्कर
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Scripts (2)
    • Displaying records 1 - 2 of 2.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 1
      Play: आरणि (ग्रीक के पौराणिक नाटक पर आधारित)
      Source/Accession No: न.प./316
      Description/Notes: कावालम नारायण पणिक्कर द्वारा आरणि के रूप में भारतीय रूपांतरण, 20 पृ0, आकार-30ग्21 से. मी.
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • Serial No: 2
      Play: स्वप्न क्था
      Playwright: भारत रत्न भार्गव
      Source/Accession No: न.प./493.1
      Description/Notes: भास द्वारा लिखित मूल संस्कृत नाटक ’प्रतिज्ञायौन्धरायण’ और ’स्वप्नवासव दत्ता’ पर आधारित पुर्नरचना। निर्देशन एवं परिकल्पना कावालम नारायण पणिक्कर। आलेख में निर्देशक के संशोधन हैं। 20 पृ0, आकार-30ग्21 से. मी.
      Director/Actor being documented: के.एन. पणिक्कर
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
Total records found: 150