Natarang Pratishthan

Natarang Pratishthan
Archive and Resource Centre for Indian Theatre

Contact Us |
Powered by: Google
|  Home  |  The Pratishthan  |  Archives  |  Documentation  |  Events  |  Catalogue  |  Natarang, the Quarterly Magazine  |  People  |
Andher Nagri, Writer: Bhartendu Harishchandr, Director: B. V. Karanth.
Image: Andher Nagri, Writer: Bhartendu Harishchandr, Director: B. V. Karanth. (NP Acc. No. 1659)

Natarang Pratishthan Documentation Catalogue

Click here to type in Hindi.
or press 'Ctrl+g' from keyboard.
  • Books (14)
    • Displaying records 6 - 10 of 14.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 6
      Title: जितेन्द्र नाथ कौशल / किरण भट्नागर
      Writer/Editor: दर्द आया था दबे पाँव
      Language: हिन्दी
      Publisher/Place: भारतीय ज्ञानपीठ, दिल्ली
      Year: 27/06/1905
      Source/Accession No: न.प. / 2338
      Description/Notes: पृ0-144(अभिनय का जादू): प्रसन्ना द्वारा निर्देशित तुगलक में मनोहर सिंह द्वारा तुगलक की नयी व्याख्या करने का उल्लेख।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 7
      Title: देवेन्द्र राज अंकुर
      Writer/Editor: पहला रंग
      Language: हिन्दी
      Publisher/Place: राजकमल प्रकाशन, दिल्ली
      Year: 21/06/1905
      Source/Accession No: न.प. / 1546
      Description/Notes: पृ0-30 (भारतीय रंगकर्म प्रयोग और परीक्षण की एक अर्धशती): भारतीय रंगमंच की चतुर्मुखी तस्वीर के पहले रुख को उजागर करने में प्रसन्ना का नाम सम्मिलित। पृ0-30: प्रसन्ना की प्रस्तुति ’उत्तररामचरित’ का उल्लेख। पृ0-51 (भारतीय रंगमंच में मंच अभिकल्पन एवं दृश्यांकन): प्रसन्ना निर्देशित ’थ्री सिस्टर्स’ का उद्वरण। प्रसन्ना निर्देशित ’उत्तररामचरित’, ’अग्नि और बरखा’ अभिकल्पन की दृष्टि से उल्लेखनीय होने का उल्लेख। पृ0-119 (कावालम नारायण पणिक्कर: शास्त्रीय शैली की लोकप्रियता के प्रणेता): प्रसन्ना का एक ऐसे अहिन्दी भाषी निर्देशक के रूप में उल्लेख जिन्हंे कारंत के बाद सर्वाधिक काम करने के अवसर हिन्दी रंगमंच में मिले।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 8
      Title: देवेन्द्र राज अंकुर
      Writer/Editor: रंगमंच का सौन्दर्य शास्त्र
      Language: हिन्दी
      Publisher/Place: राजकमल प्रकाशन, दिल्ली
      Year: 28/06/1905
      Source/Accession No: न.प./2397
      Description/Notes: 175पृ0, 200.00, पृ0,87(नाट्यालेख)ः निर्देशक प्रसन्ना नाट्य रचना भी करते रहे हैं लकिन स्वतंत्र रूप से नाटककार के रूप मे स्ािापित नही हो पाए।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 9
      Title: नेमिचन्द्र जैन
      Writer/Editor: तीसरा पाठ, चार दशक की नाट्य प्रस्तुतियाँ
      Language: हिन्दी
      Publisher/Place: वाणी प्रकाशन, दिल्ली
      Year: 20/06/1905
      Source/Accession No: न.प./2407
      Description/Notes: 294पृ0, 250.00, पृ0-144(सोवियत रूस का एक सक्षम आधुनिक नाटक)ः प्रसन्ना के निर्देशन में राष्ट्रीय नाट्य विद्यालय के द्वितीय वर्ष के छात्रों द्वारा फूजीयामा का प्रदर्शन एक सुखद और महत्वपूर्ण घटना। पृष्ठ-146ः लेखक के अनुसार प्रसन्ना की यह प्रस्तुति सरल, सादी, आडंबरहीन पर प्रभवी है और उसमें अभिनेताओं की कुशल अभिव्यक्ति की प्रमुखता। वह निर्देशक की उपलब्धि के बहु भाषा भाषी छात्रों को भी ऐसे भाषा केन्द्री नाटक की एसरदार प्रस्तुति के लिए तैयार करने में कामयाब। पृ0-251(खतरे भी है, संभावनाएँ भी)ः जनवरी 1984 में संगीत नाटक अकादमी का कर्नाटक नाटकी अकादमी के सहयोग से आयोजित नाटक समारोह में बंेलूरू की जनपद रंपर्टरी कंपनी द्वारा प्रस्तुत चन्द्रशेखर कंबारू का कन्नड़ नाटक दुलय नेरलु की प्रसन्ना के निर्देशन में प्रस्तुति।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 10
      Title: नेमिचन्द्र जैन
      Writer/Editor: दृष्य-अदृश्य, संस्कृति और रंगमंच के ज्वलंत प्रश्नों की पड़ताल
      Language: हिन्दी
      Publisher/Place: वाणी प्रकाशन, दिल्ली
      Year: 16/06/1905
      Source/Accession No: न.प./2412
      Description/Notes: पृष्ठ-16 (उदारता और आत्मघात में फँसी सांस्कृतिक चेतना)ः नेमिजी के अनुसार समकालीन हिन्दी रंगमंच को समृद्ध और विशिष्ट बनाने में प्रसन्ना जैसे अहिन्दी निर्देशकों का उत्कृष्ट योगदान।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Newspaper Clippings (74)
    • Displaying records 1 - 5 of 74.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 1
      Writing Form/Subject: रपट
      Writer: अजित राय
      Title: रंगमंच का विद्रोही कारीगर: प्रसन्ना
      Newspaper Name: अमर उजाला, नयी दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 13.01.2008
      Source: न.प.
      Description/Notes: हिन्दी रंगमंच में प्रसन्ना द्वारा किए गये काया्र्रं पर केन्द्रित लेख। ’प्रसन्ना के नाट्यकर्म में सामाजिक बिडम्बनाओं से टकराते एक तर्कशील आम आदमी का स्वर सुनाई देता है।’
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 2
      Writing Form/Subject: रपट
      Writer: अजित राय
      Title: रंगमंच का विद्रोही कारीगर: प्रसन्ना
      Newspaper Name: दैनिक जलते दीप, जोधपुर
      Language: हिन्दी
      Date: 20.01.2008
      Source: न.प.
      Description/Notes: प्रसन्ना का हिन्दी रंगमंच में योगदान पर केन्द्रित लेख। प्रसन्ना निर्देशित हिन्दी नाटकाकं का उल्लेख। तिरिछ, शकुन्तला, उतररामचरित्, अग्नि और बरखा, तुगलक, सीमा पार आदि।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 3
      Writing Form/Subject: रपट
      Writer: अजित राय
      Title: स्वर्ण जयंती पर नाटककारों को भूल गए आयोजक
      Newspaper Name: जनसत्ता, नयी दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 04.01.2008.
      Source: न.प.
      Description/Notes: 10वें भारत रंग महोत्सव में रा. ना. वि. के पूर्व छात्र-छात्राओं के अलावा बाहर के नाटकों को शामिल नहीं कियं जाने पर प्रसन्ना ने विरोध जताया।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 4
      Writing Form/Subject: बातचीत
      Writer: अभय
      Title: नयी भूमिका तलाश करे नाटक
      Newspaper Name: आज समाज, दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 05.01.2008.
      Source: न.प.
      Description/Notes: ’’राष्टँीय नाट्य विद्यालय के विकेन्द्रीकरण की अपनी मांग के समर्थन में प्रसन्ना भारत रंग महोत्सव में भाग नहीं ले रहे है।’’
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 5
      Writing Form/Subject: बातचीत
      Writer: अमित कुमार
      Title: उपभोक्तावाद थियेटर को निगल जायेगा
      Newspaper Name: करंट न्यूजए नई दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 15ण्11ण्2009
      Source: नण् प्रण्
      Description/Notes: आज के रंगमंच की स्थिति एवं आने वाली स्थितियों के बारे एवं आने वाली स्थितियों के बारे में मशहूर रंगकर्मी प्रसन्ना से अमित कुमार की बातचीत।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Periodicals (29)
    • Displaying records 1 - 5 of 29.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serail No: 1
      Writer: प्रसन्ना
      Title: धुनो के धनी
      Journal: रंग्प्रसंगए अर्धवार्षिकए
      Language: हिन्दी
      Date: जुलाई.दिसम्बरए 1998
      Volume: अंक.2
      Source: न.प. /
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serail No: 2
      Writing Form: लेख
      Writer: प्रसन्ना
      Title: हिन्दी नाटक और रंगमंच . अपनी.अपनी नज़र से
      Journal: नटरंगए त्रैमासिकए दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: मार्च . दिसम्बरए 1989
      Volume: खंड.13ए अंक . 50.52
      Source: नण् प्रण्
      Description/Notes: पृण् 35.36ए हिन्दी नाटक और रंगमंच के संदर्भ में चर्चा करते हुए प्रसन्ना हिन्दी को ही भारतीय राष्ट्रभाषा के रूप में सक्षम पाते हैं। और हिन्दी की व्यापक फैलाव और पहुँच को मानते हैं।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serail No: 3
      Writing Form: रपट
      Writer: अजित राय
      Title: चलो फिर चलें लोक की ओर
      Journal: रंग प्रसंग, त्रैमासिक, दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: अप्रैल - जून 2006
      Volume: 01/01/1900
      Source: न.प. / 2681
      Description/Notes: वर्ष-9, पृ0-77: प्रसन्ना द्वारा परिकल्पित रंगायन मैसूर के समारोह 2006 का उल्लेख। पृ0-78: बहुरूपी समारोह में ’देशज संस्कृति: उत्तर आधुनिक संदर्भ’ विषय पर आयोजित सेमिनार में शिरकत करने की सूचना।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serail No: 4
      Writing Form: रपट
      Writer: आनन्द अस्थाना
      Title: शहर-ए-लखनऊ के आंगन में लगे रंगकर्म के मेले
      Journal: छायानट, लखनऊ
      Language: हिन्दी
      Date: जनवरी- मार्च 2004
      Volume: 14/04/1900
      Source: न.प. / 2688
      Description/Notes: पृ0-88: 28 अक्तूबर 2003 की शाम, उत्तर प्रदेश संस्कृति विभाग एवं भारतेन्दु नाट्य अकादमी के सहयोग से आयोजित नाट्य उत्सव में प्रसन्ना द्वारा लिखित एवं निर्देशित नाटक ’सीमा पार’ की प्रस्तुति की रिपोर्ट।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serail No: 5
      Writing Form: समीक्षा
      Writer: उदय प्रकाश
      Title: मोटेराम और शतरंज की बाजी
      Journal: दिनमान, साप्ताहिक, नयी दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 30 अगस्त 1988
      Source: न.प. / 1853
      Description/Notes: पृ0-84: 9-10 जुलाई, प्रसन्ना के निर्देशन में प्रमचन्द की कहानी ’शतरंज के खिलाड़ी’ पर आधारित ’गदर के पहले के दिन’ का नाटक दिल्ली के श्रीराम सेन्टर में मंचित होने का उल्लेख तथा यह नाट्यरूपांतर स्वयं प्रसन्ना ने पहले कन्नड़ में किया। संगीत-ब.व कारंत। ’यह नाटक 1957 की राज्यक्रांति के समय की वास्तविक सामाजिक परिस्थितियों को दर्शाता है।’
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Scripts (3)
    • Displaying records 1 - 3 of 3.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 1
      Play: एक पुरुष, डेढ़ पुरुष
      Source/Accession No: न.प./148
      Description/Notes: तीन अंकों का नाटक। स्त्री-पुरुष दोनों चरित्रों की आपसी बातचीत जिसमें इनकी अपनी जिंदगी के अनुभव भी शामिल।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 2
      Play: एक लोक कथा
      Source/Accession No: न.प./223
      Description/Notes: अनुवाद-ब.व.कारंत, मूल-कन्नड़, एक लोककथा पर आधारित नाटक।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • Serial No: 3
      Play: गाँधी
      Source/Accession No: न.प./457
      Description/Notes: गांधी और आज के नेताओं पर एक सटीक और तुलनात्मक चर्चा, अंत में नाटक पर पंन्सिल से कुछ नोट्स।
      Director/Actor being documented: प्रसन्ना
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
Total records found: 120