Natarang Pratishthan

Natarang Pratishthan
Archive and Resource Centre for Indian Theatre

Contact Us |
Powered by: Google
|  Home  |  The Pratishthan  |  Archives  |  Documentation  |  Events  |  Catalogue  |  Natarang, the Quarterly Magazine  |  People  |
Andher Nagri, Writer: Bhartendu Harishchandr, Director: B. V. Karanth.
Image: Andher Nagri, Writer: Bhartendu Harishchandr, Director: B. V. Karanth. (NP Acc. No. 1659)

Natarang Pratishthan Documentation Catalogue

Click here to type in Hindi.
or press 'Ctrl+g' from keyboard.
  • Books (30)
    • Displaying records 6 - 10 of 30.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 6
      Title: ‘अंधायुग‘ पाठ और प्रदर्शन
      Writer/Editor: जयदेव तनेजा
      Publisher/Place: राष्ट्रीय नाट्य विद्यालयए दिल्ली
      Year: 20/06/1905
      Source/Accession No: न0 प्र0 / 1360
      Description/Notes: प्रष्ठ.130(प्रदर्शन)ः - बांग्ला रंगमंच और फिल्म जगत के अभिनेता निर्देशक अजितेश बनर्जी के ”अंधायुग” के प्रति आकर्षित होने पर उनकी राजिन्दर नाथ से बात हुई परन्तु राजिन्दर नाथ द्वारा उन्हें मंचन के लिए हतोत्साहित करने का उल्लेख।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 7
      Title: आधुनिक भारतीय रंग-परिदृश्य
      Writer/Editor: जयदेव तनेजा
      Publisher/Place: तक्षशिला, दिल्ली
      Year: 14/06/1905
      Source/Accession No: न.प.
      Description/Notes: पृ.- 21 (आधुनिक भारतीय रंगकर्म: वर्तमान परिदृश्य): आधुनिक भारतीय रंगमंच के उद्भव और विकास में निर्देशन और प्रस्तुतिकरण की दृष्टि से राजिन्दर नाथ द्वारा निर्णायक योगदान का उल्लेख, किन्तु लेखक के मत से राजिन्दर नाथ ऊब ’घासीराम कोतवाल’ ’जाति ही पूछो साधु की’ ऊचाइयाँ पाने में अपनेे को उसमथ्र पा रहे हैं। पृ.घ्-80 (ओम शिवपुुरी: आधे अधूरे): दिशान्तर’ से राजिन्दर नाथ के निर्देशन में ’लहरों के राजहंस’ की प्रस्तुति। पृ.- 100 (राजिन्दर नाथ: गिनीपिग और ’जाति ही पूछो साधु की’) राजिन्दर नाथ की उक्ति ’हमारे यहाँ टैलेन्ट की कमी नहीं हैं मगर वह एक-एक, दो-दो करके अलग-अलग संस्थाओं में विखरा हुआ हैं। राजिन्दर नाथ के व्यक्तित्व का संक्षिप्त विवरण। दिल्ली की महत्वपूर्ण व सक्रिय संस्था ’अभियान’ के संस्थापक निर्देशक। आरंभिक दिनों में हबीब तनवीर की मिट्टभ् की गाड़ी में अभिनय। पृ.- 101 लेखक के मत से दिल्ली की ’अभियान’ संस्था आज राजिन्दर नाथ का पर्याय बन चुकी है। गंभीर और कुशल निर्देशक राजिन्दर नाथ द्वारा बाकी इतिहास, पगला घोड़ा, गिनीपिग, उध्वस्त धर्मशाला, ताम्रपत्र, कन्यादान, घासीराम कोतवाल, जात ही पूछो साधु की जैसी अनेक उल्लेखनीय उच्चस्तरीय प्रस्तुतियाँ। पृ.- 101 बांग्ला और मराठी से अनूदित और पूर्व मंचित नाटकों में राजिन्दर नाथ की विशेष रूचि। पृ- 102 राजिन्दर नाथ मंच के बहुरंगी आडम्बर, तकनीकी चमत्कार और अतिनाटकीयता की अपेक्षा सादगी, सरलता, संवेदनशीलता और सहज अभिनय पर अधिक विश्वास करते हैं। राजिन्दर नाथ समकालीन हिन्दी रंग-परिदृश्य के सर्वाधिक सक्रिय, प्रमुख उल्लेखनीय नाट्य निर्देशक। राजिन्दर नाथ के अनुसार- ऐसे नाटक बहुत कम होते हें जिनके हो जाने के बाद गहरी संतुष्टि का अनुभव हो। ’गिनीपिग’ मेरे लिए उन बहुत कम नाटकों में से एक है। पृ.- 103 मूल बांग्ला में ’गिनीपिग’ नाम से बहुरूपी में प्रकाशित और सान्त्वना निगम द्वारा हिन्दी में अनुवादित ’गिनीपिग’ का राजिन्दर नाथ निर्देशित प्रथम प्रदर्शन ’मई 1972’ का ’अभियान’ द्वारा ’आईफेक्स’ प्रेक्षागृह में प्रस्तुत एक उल्ल्ेखनी उपलब्धि। साहित्य कला परिषद् द्वारा उस वर्ष की सर्वश्रेष्ठ प्रस्तुति का पुरस्कार। 1989 की नेहरू शताब्दी समारोह के अन्तर्गत प्रस्तुति में अपार दर्शकों का रिकार्ड। पृ- 104, 105 राजिन्दर नाथ द्वारा ’गिनीपिग’ की पहली प्रस्तति के अन्त में कुछ परिवर्तन के कारण नाटककार और निर्देशक में विवाद और फिर समझौता और अन्तिम दृश्य में कुछ परिवर्तन का उल्लेख। पृ- 106, 107 विजय तेंदुलकर के वसन्तदेव द्वार अनुवादित नाटक ’जाति ही पूछो साधु की’ राजिन्दर नाथ निर्देशित ’अभियान’ की प्रस्तुति राजिन्दर नाथ की ’घासीराम कोतवाल’ के बादल एक विशिष्ठ उपलब्धि बन जाने का उल्लेख। पृ- 111 (विजया मेहता: ’हयवदन’ ’बाड़ा चिरेबंदी’): राजिन्दर नाथ के निर्देशन में ’अनामिका’ के साथ गिरीश कनार्ड के ’हयवदन’ की प्रस्तुति। पृ.- 139 (जब्बार पटेल: घासीराम कोतवाल): ’घासीराम कोतवाल’ के वसन्तदेव कृत हिन्दी अनुवाद का राजिन्दर नाथ द्वारा सफल मंचन। पृ.- 2221, मूल्य- 150/-
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 8
      Title: आज के हिन्दी रंग नाटक: परिवेश और परिदृश्य
      Writer/Editor: जयदेव तनेजा
      Publisher/Place: तक्षशिला, दिल्ली
      Year: 02/06/1905
      Source/Accession No: साहित्य अकादमी/ 52044
      Description/Notes: राजिन्दर नाथ के निदैशन में दिशान्तर दिल्ली द्वारा (1973) में की गइ्र प्रस्तुति का उल्लेख। पृ.- 167, मूल्य- 35/-
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 9
      Title: आज के हिन्दी रंग नाटक: परिवेश और परिदृश्य
      Writer/Editor: जयदेव तनेजा
      Publisher/Place: तक्षशिला, दिल्ली
      Source/Accession No: संगीत नाटक अकादमी/52044
      Description/Notes: राजिन्दर नाथ द्वारा 1967 में अभियान नाट्यसंस्था का पहला मंचित नाटक ’हत्या एक आकार की’ का उल्ल्ेख। पृ.- 167, मूल्य- 35/-
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 10
      Title: नई चेतना और हिन्दी नाटककार
      Writer/Editor: जयदेव तनेजा
      Publisher/Place: तक्षशिला, दिल्ली
      Year: 16/06/1905
      Source/Accession No: दिल्ली पब्लिक लाइब्रेरी/ 690360
      Description/Notes: पृ.- 16, 28 नये रंग आन्दोलन के सुशिक्षित, कुशल निर्देशक के रूप में राजिन्दर नाथ का उल्लेख। पृ.- 28 राजिन्दर नाथ का ’अंधा युग’ की एक ऐसी लम्बी कविता मानते है जो नाटक के रूप में बहुत अच्छी नहीं है। पृ.- 147 ’एक दूनी एक’ नाटक को अक्टूबर, 1985 में श्रीराम सेन्टर रंगमंडल द्वारा राजिन्दर नाथ के निर्देशन में प्रस्तुति का उल्लेख। पृ.- 157 भीष्म साहनी के पूर्णकालिक नाटक ’हानूश’ का राजिन्दर नाथ द्वारा 1977 में श्रीराम सेन्टर द्वारा आयोजित ’राष्ट्रीय नाट्योत्सव’ में ’अभियान’ की और से प्रस्तुत होने का उल्लेख। पृ.- 264, मूल्य- 200/-
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Newspaper Clippings (77)
    • Displaying records 1 - 5 of 77.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serial No: 1
      Writing Form/Subject: रपट
      Writer: अजित राय
      Title: रंगमंच पर दलित विमर्श
      Name of the Play/Event: कन्यादान
      Newspaper Name: जनसत्ताए नई दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 11/04/2008
      Source: न0 प्र0
      Description/Notes: 1983 में विजय तेन्दुलकर लिखित नाटक कन्यादान का 10 सितम्बर 1985 में राजिन्द्र नाथ के निर्देशन में मंचन पुनः श्री राम सेन्टर रंगमंडल द्वारा रबिजिता गोगोई के निर्देशन में मंचन।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 2
      Writing Form/Subject: लेख
      Writer: अजित राय
      Title: थियेटर को समृद्ध किया है मीडिया ने
      Newspaper Name: राष्ट्रीय सहारा, नई दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: 11 मार्च, 2003
      Source: न॰प॰
      Description/Notes: भारत रंग महोत्सव समापन के अवसर पर दर्शकों के सवालों के जबाब दिये राजिन्दर नाथ ने। समापन समारोह पर केन्द्र्रित लेख।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 3
      Writing Form/Subject: साक्षात्कार
      Writer: कुमार विजय
      Title: हजारों-लाखों लोगों को प्रभावित कर सकने वाला रंगमंच ’कला’ नहीं रह पाएगा
      Newspaper Name: नवभारत टाइम्स
      Language: हिन्दी
      Date: 26 फरवरी, 1984
      Source: न॰प॰
      Description/Notes: समकालीन हिन्दी रंगमंच की स्थिति पर राजिन्दर नाथ से बातचीत।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 4
      Writing Form/Subject: रपट
      Writer: जयदेव तनेजा
      Title: परम्परा और प्रयोग: वर्तुलाकार रंग-यात्रा
      Newspaper Name: हिन्दुस्तान
      Language: हिन्दी
      Date: 26 अगस्त, 1995
      Source: न॰प॰
      Description/Notes: राजिन्दर नाथ के रंगप्रयोग ने रंगकर्म को दृश्यबन्ध की यथार्थवादी अवधारणा से आजाद कर दिया। समय और जरूरत के मुताबिक रंगदृष्टी में हो रहे परिवर्तन पर रपट।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serial No: 5
      Writing Form/Subject: साक्षात्कार
      Writer: महेश आलोक
      Title: मेरे लिए टेक्स्ट की भाषा अहम है
      Newspaper Name: सन्डे
      Language: अंग्रेजी
      Date: 12 फरवरी, 1991
      Source: न॰प॰
      Description/Notes: रंग शिल्प, भारतीय नाटक ही करने का संकल्प, आदि विषयों पर बातचीत।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
  • Periodicals (66)
    • Displaying records 1 - 5 of 66.
      | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
    • Serail No: 1
      Writing Form: समीक्षा
      Writer: अण् मिण्
      Title: बगिया बांछाराम की
      Journal: दिनमानए साप्ताहिकए नई दिल्लीए टाइम्स ऑफ इंडिया
      Language: हिन्दी
      Date: 28 फरवरी - 6 मार्चए 1982
      Page: 40 - 41
      Source: न0 प्र0 / 1822
      Description/Notes: राजिन्दर नाथ के निर्देशन में ”बगिया बांछा राम की” नाटक दिल्ली के श्री राम सेन्टर के तलघर में अभियान द्वारा प्रस्तुति की समीक्षा। फोटो सहित। यह नाटक मानवीय संबंधो के विचित्र्य को इसमें मजेदार ढंग से प्रस्तुत किया गया।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serail No: 2
      Writing Form: प्रदर्शन सूचना
      Title: अभियान, दिल्ली की प्रस्तुति नाट्यकेन्द्रों से (दिल्ली)
      Journal: नाट्यवार्ता, कलकत्ता
      Language: हिन्दी
      Date: जनवरी- फरवरी, 1978
      Volume: 16-17
      Page: 20
      Source: न.प./216
      Description/Notes: अरिस्टोफिनीस के नाटक ’लिसिसट्रेटा’ का अनुवाद व निर्देशन राजिन्दर नाथ द्वारा। संगीत- मोहन उप्रेती, प्रकाश- सितांशु मुखर्जी, मंच- अशोक भट्टाचार्य।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serail No: 3
      Writing Form: लेख
      Writer: प्रोण् एण् अच्युचतन
      Title: विश्व मंच तक हिन्दी नाटक और रंगमंचः त्रिआयामी यात्राऐंण्ण्ण्
      Journal: बहुवचनए त्रैमासिकए हिन्दीए वर्धा(महाराष्ट्र)
      Language: हिन्दी
      Date: जनवरी - मार्चए 2008
      Volume: 17/01/1900
      Page: 20
      Source: न0 प्र0 /
      Description/Notes: अभियान के माध्यम से राजिन्दर नाथ ने भारतीय भाषाओं से अनुदित नाटकों की प्रस्तुति का आधार बनाया।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serail No: 4
      Writing Form: समीक्षा
      Writer: कार्तिक अवस्थी
      Title: भोपाल में सात दिनः एक नाट्य.समारोह और कुछ पूर्वग्रहयुक्त प्रतिक्रियाएँ।
      Journal: छायानटए उ0 प्र0 संगीत नाटक अकादमीए लखनऊ।
      Language: हिन्दी
      Date: जनवरी - मार्चए 1978
      Volume: 03/01/1900
      Page: 84
      Source: न0 प्र0 / 187
      Description/Notes: भोपालए ”म0 प्र0 कला परिषद्“ की रजत जयंती के अवसर पर नाट्य.समारोह ”रजतरंग“ के आयोजन में राजिन्दर नाथ के निर्देशन में यूनानी कामदी “लिसिसट्राटा“ का प्रदर्शन।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • Serail No: 5
      Writing Form: रपट
      Writer: कीर्ति जैन
      Title: किसी फूल का नाम लो- नाटक और प्रदर्शन
      Journal: नटरंग, त्रैमासिक, दिल्ली
      Language: हिन्दी
      Date: जनवरी- मार्च, 1970
      Volume: वर्ष-4, अंक-13
      Page: 53
      Source: न.प.
      Description/Notes: किसी फुल का नाम लो’ पर केन्द्रित लेख। दिल्ली में इस नाटक का प्रदर्शन राजिन्दर नाथ के निदेशन में हुआ था।
      Director/Actor being documented: राजिन्दर नाथ
    • | FIRST | PREVIOUS | NEXT | LAST |
Total records found: 173